Naav Bachao Naav Banao Class 4 Notes CBSE Hindi Chapter 6 [Free PDF Download]

NCERT Class 4 Hindi Chapter 6 Naav Bachao Naav Banao Revision Notes

In the Hindi syllabus of Class 4, there is a very entertaining poem named Naav Bachao Naav Banao. Written by Hari Krishna Das Gupt, the poem is all about the excitement that children have while making paper boats during the rainy season. The cheery tone and fun verses of the poem will make the process of learning even easier for children.

 

However, if they have some difficulty understanding the Hindi words or need some help with the poem summary, Naav Bachao Naav Banao revision notes are provided by subject experts at Vedantu. Designed by keeping in mind the latest CBSE guidelines and standards, these notes make it easy for students to prepare this chapter for the exams.


NCERT Solutions for Class 4 Hindi | Chapter-wise List

Given below are the chapter-wise NCERT Solutions for Class 4 Hindi. These solutions are provided by the Hindi experts at Vedantu in a detailed manner. Go through these chapter-wise solutions to be thoroughly familiar with the concepts.

Do you need help with your Homework? Are you preparing for Exams?
Study without Internet (Offline)

Download PDF of Naav Bachao Naav Banao Class 4 Notes CBSE Hindi Chapter 6 [Free PDF Download]

Access Class 4 Hindi Chapter 6 – नाव बनाओ नाव बनाओ Notes

कवि परिचय:

  • प्रस्तुत कविता के कवि  'हरिकृष्णदास गुप्त' है। 

  • कवि का जन्म सन् 1911 को बिहार में हुआ था। 

  • इनकी प्रमुख कृतियों मे "दोहे के हीरे", "रस मलाई" शामिल हैं। 

  • उन्होंने "बुढ़िया गुड़िया" नाम की बाल कविता भी लिखी है l


कविता का सारांशः

  •  प्रस्तुत कविता मे कवि ने बरसात के मौसम का चित्रण किया गया है | 

  • कवि कहते है कि जब पानी की बूँदे आसमान से धरती पर गिरती हैं, तो बच्चों के अंदर उत्साह का एक भाव जाग जाता है। 

  • इस कविता के अनुसार जब बरसात के मौसम का आगमन होता है और धरती पर बारिश होने वाली होती है। 

  • तब एक बच्चा अपने भैया से नाव बनाने को कहता है। बच्चा कहता है कि आकाश में बादल छाए हैं और इनको देखकर ऐसा लगता है जैसे ये सात समंदर का पानी भरकर लाए हैं । 

  • वह अपने भैया से पानी की बूँदों के साथ थोड़ी मस्ती करने को कहता है ।

  • इसके बाद बच्चा उत्साहित मन से कहता है कि आज तो बहुत बरसात होने वाली है | ऐसा लगता है कि आज सड़क, घर सबकुछ पानी से भर जाएगा और हर तरफ नदी सा दृश्य दिखाई देने लगेगा | 

  • फिर वह अपने भैया से कहता है कि तुम भी जल्दी से नाव बनाओ और हम मिलकर अपनी नाव को लहराते हैं ।

  • आगे वह बालक अपने भैया से कहता है कि तुम गुल्लक से पैसे ले जाकर बाजार से नाव बनाने के लिए रंग बिरंगा कागज लेकर आओ। जल्दी से इसे कैंची से काटकर नाव बनाओ | ताकि हम भी इस बरसात का मजा ले सके ।

  • बच्चा आगे अपने भैया से कहता है कि मेरे लिए ऐसी नाव बनाओ जो छप-छप कर कूड़े से टकराकर, बारिश की बूंदों और पानी की लहरों से लड़ती हुई बिना रूके आगे बढ़ती जाए । वह नाव सबको पसंद भी आ जाए | और ऐसा कहकर वह  भैया को नाव बनाने को कहता है।

  • यह सब सुनकर भी भैया को बारिश और नाव में बिल्कुल भी रुचि नहीं है । 

  • वह अपने छोटे भाई से कहता है कि यह सब मेरे बस का नहीं है । लेकिन फिर भी बालक अपने भैया से नाव बनाने को कहता रहता है ।


शब्द - अर्थ:

शब्द

अर्थ

वाक्य में प्रयोग

आलस

किसी काम को करने मे उत्साह नहीं होना

हमे कभी भी किसी काम को करने मे आलस नहीं करना चाहिए |

धरना

रखना

राम क्या तुम इसे धरोगे |

गुल्लक

मिट्टी का एक पात्र जिसमे पैसे जमा करके रखते है ।

मेरे गुल्लक मे सौ रूपये है |  

टटोलो

खोजो

तुम जाकर अपनी किताब टटोलो | 

रोलो

लुढ़काओ

बालक ने अपनी नाव को रोलना शुरू किया |

हर्षाओ

प्रसन्न कर दो 

बादल सभी को हर्षित कर देता है |

खोट

दोष

मुझे लगता है सीता के मन मे थोड़ा खोट है |


तुकबंदी वाले शब्द:

बनाओ

आओ,लाओ,लहराओ,चलाओ,हर्षाओ,पाओ

आया

छाया,लाया

पड़ेगा

भरेगा, धरेगा

खोलो

टटोलो,रोलो

चमकीला

पीला, रंगीला

अड़ती

बढ़ती,चढ़ती, गढ़ती

बस

आलस


प्रश्न - उत्तर:

प्रश्न 1. यह कविता किसके बारे में है ?

(क) गर्मी

(ख) बरसात

(ग) सर्दी

उत्तर: बरसात

 

प्रश्न 2. कविता में बादल कितने समुंदर भर के आया है ?

(क) सात

(ख) चार

(ग) दस

उत्तर: सात 


प्रश्न 3. बालक भैया को कैसा कागज लाने को कहता है ?

(क) सफेद

(ख) काला

(ग) रंग बिरंगा

उत्तर: रंग बिरंगा


 प्रश्न 4. कागज की नाव किससे  लड़ती हुई आगे बढ़ती है ?

उत्तर: कागज की नाव कूड़े से टकराकर, बारिश की बूंदों और पानी की लहरों से लड़ती हुई आगे बढ़ती है ।


प्रश्न 5. भैया क्या कह कर काम को टाल देते हैं?

उत्तर: भैया कहते हैं कि यह नाव बनाना मेरे बस की बात नहीं है और ऐसे कह करके वह काम को टाल देते हैं l


अभ्यास प्रश्न:

प्रश्न 1. कविता की पंक्तियों को पूरा करो l

(क) वह देखो, ______ आया है, 

घिर-घर कर ________ छाया है, 

______ समुंदर भर लाया है ।

उत्तर: वह देखो, पानी आया है, 

घिर-घर कर बादल छाया है, 

सात समुंदर भर लाया है ।


(ख) _______ भारी, अपनी खोलो, 

हल्की मेरी, नहीं _______, 

_______ नए-नए ही रोलो ।

उत्तर: गुल्लक भारी, अपनी खोलो, 

हल्की मेरी, नहीं टटोलो

पैसे नए-नए ही रोलो ।


प्रश्न 2. मिलान करो l

टटोलो

लुढ़काओ

खोट

प्रसन्न कर दो

रोलो

खोजो

हर्षाओ

दोष

उत्तर: उचित मिलान-

टटोलो

खोजो

खोट

दोष

रोलो

लुढ़काओ

हर्षाओ

प्रसन्न कर दो


प्रश्न 3. बच्चा अपने भैया से क्या कहता है ?

उत्तर:  बच्चा अपने भैया को बारिश की बूंदों के साथ थोड़ा मस्ती करने और कागज से नाव बनाने को कहता है l


प्रश्न 4. बच्चा कब उत्साहित हो जाता है ?

उत्तर: जब पानी की बूँदे आसमान से धरती पर गिरती हैं, तब बच्चा इसका आनंद लेने के लिए उत्साहित हो जाता है l


प्रश्न 5. कविता में आए काम वाले शब्दों को छाँटकर लिखो l

उत्तर: आना, लाना, छाना, मरना, लहराना, चलाना, खोलना और छोड़ना ।


प्रश्न 6. कविता में सात समुद्र का जिक्र किया गया है l इन सभी सात समुद्रों का नाम लिखो l

उत्तर: प्रशांत महासागर, हिंद महासागर, अरब सागर, बंगाल की खाड़ी, उत्तरी ध्रुव महासागर और दक्षिणी ध्रुव महासागर l


Importance of Class 4 Hindi Chapter 6 Naav Bachao Naav Banao Summary

As we have mentioned earlier, the revision notes for Class 4 Hindi Chapter 6 cover the summary as well as other important concepts of the chapter. The poem is about two brothers having a conversation about building paper boats during the rainy season. One of the brothers asks the other to go to the market and buy colourful paper with the money he had in his piggy bank. Children get very excited during the rainy season to play outside with paper boats.


The Class 4 students will not only find this poem relatable but they can also grasp the content of the poem very easily. The revision notes and worksheets have been designed in a manner that is extremely detailed and systematic. So students will be able to learn a lot from these notes. At Vedantu, the main mission is to ensure that students are able to get a grasp of chapters and they don’t miss out on anything. Hence, these revision notes are great to accomplish that mission.


Benefits of Revision Notes and Worksheets for NCERT Class 4 Chapter 6 Hindi 

The Naav Bachao Naav Banao revision notes have been designed by subject matter experts at Vedantu for the comfort and benefit of Class 4 students. Here are some reasons why you need these notes for your exam preparation.

  • With these notes, you can revise the chapter quickly before the exams.  

  • In case you have missed anything on this chapter during the class, these revision notes will be good to explain the chapter, all the Hindi words, and questions given in the exercises.

  • Understand the concepts and message of the chapter that have been provided in the poem easily by referring to these revision notes. 

  • Solve the Banao Nav Banao question answers given in the worksheet and exercises and verify your answers from the solutions.


Download Class 4 Hindi Chapter 6 Notes Naav Banao Naav Bachao

Get helpful free notes and Class 4 Hindi Chapter 6 question answer worksheets free of cost on Vedantu. Learn the chapter easily with the detailed summary provided in the revision notes to score well in the exams by answering questions with complete accuracy.


Important Related Links for NCERT Class 4 Hindi


FAQs on Naav Bachao Naav Banao Class 4 Notes CBSE Hindi Chapter 6 [Free PDF Download]

1. When to refer to the revision notes for NCERT Class 4 Hindi Chapter 6?

After you are done reading the chapter in the textbook, you can refer to the revision notes to understand the chapter thoroughly. It will make it easier to learn and revise the chapter.

2. What is the poem Naav Banao Naav Banao about?

The poem is about the excitement that children feel during the monsoons as they get to make paper boats and float them in the water. In the poem, there are two brothers talking to each other about building paper boats.

3. Why does the younger brother not want to go to the market?

In the poem, the younger brother wants the elder brother to go to the market and buy colourful paper for building paper boats. He says that his piggy bank is empty while the elder brother’s piggy bank is full of money.

Share this with your friends
SHARE
TWEET
SHARE
SUBSCRIBE