Swatantrata Ki Or Class 4 Notes CBSE Hindi Chapter 9 [Free PDF Download]

Quick Revision With Class 4 Hindi Chapter 9 Worksheets and Revision Notes

If you want to score high marks in your Class 4 Hindi examination, it is definitely important for you to have a proper understanding of all the chapters. This is where Vedantu can help you out. For example, Class 4 students can learn a lot from the chapter named Swatantrata Ki Or.


Are you having some difficulties understanding the chapter and the storyline? Well, the experts at Vedantu have the right solution for the problem. With the help of Swatantrata ki Or revision notes, students can get a detailed explanation of the chapter along with worksheets to solve the questions and exercises.


NCERT Solutions for Class 4 Hindi | Chapter-wise List

Given below are the chapter-wise NCERT Solutions for Class 4 Hindi. These solutions are provided by the Hindi experts at Vedantu in a detailed manner. Go through these chapter-wise solutions to be thoroughly familiar with the concepts.

Do you need help with your Homework? Are you preparing for Exams?
Study without Internet (Offline)

Download PDF of Swatantrata Ki Or Class 4 Notes CBSE Hindi Chapter 9 [Free PDF Download]

Access Class 4 Hindi Chapter 9 – स्वतंत्रता की ओर Notes

लेखक परिचय:

  • इस कहानी की लेखिका 'सुभद्रा सेन गुप्ता' है l

  • उनका जन्म 1950 में दिल्ली में हुआ था l

  • सुभद्रा सेन गुप्ता ऐतिहासिक कथा और जासूस की कहानियां लिखने मे माहिर है l

  • उन्हें चिल्ड्रन बुक फेयर में व्हाइट रेवेन अवॉर्ड मिल चुका हैं l


कहानी का सारांशः

  • यह कहानी स्वतंत्रता के दौर की है | 

  • इस कहानी के अनुसार नौ साल का धनी नाम का लड़का अपने माता-पिता के साथ अहमदाबाद के पास महात्मा गाँधी के साबरमती आश्रम में रहता था। सब उसे बुद्धू समझते थे ।

  • उस आश्रम में पूरे भारत से लोग रहने आया करते थे । वे सब भी गाँधीजी की तरह भारत की स्वतंत्रता के लिए लड़ाई लड़ रहे थे | 

  • आश्रम में सभी लोग कुछ ना कुछ काम किया करते थे ।

  • धनी बिन्नी नाम की एक बकरी की देखभाल करना था | दोनों बहुत अच्छे दोस्त थे । 

  • धनी को बिन्नी से बातें करना पसंद था । 

  • एक दिन जब धनी बिन्नी को घास चरा रहा था । उसी समय उसने गाँधीजी के कमरे में बनने वाली योजना को सुन लिया था । 

  • वह बिन्नी को लेकर रसोई की ओर गया जहाँ उसकी माँ चूल्हा फूँक रही थी जिससे कमरे में धुँआ भर गया था |

  • धनी ने अपनी माँ से गाँधी जी के कहीं पर जाने के बारे मे पूछा ।

  • माँ ने उसे डांट दिया और वहां से जाने को कहा ।

  • इसके बाद धनी बिंदा चाचा के पास गया ।जो खेत में आलू खोद रहे थे । 

  • धनी ने उनसे भी वही प्रश्न पूछा । 

  • चाचा ने उसे बताया कि गाँधीजी अपने साथियों के साथ पैदल चलते हुए दांडी नाम की जगह पर समुद्र के पास जा रहे है जहां वह नमक बनाएँगे |

  • धनी ने कहा कि नमक तो किसी भी दुकान से खरीदा जा सकता है और चाचा से पूछा कि गाँधीजी नमक को लेकर विरोध क्यों कर रहे हैं ? 

  •  इस पर बिंदा चाचा ने कहा कि हम सभी को नमक पर कर देना पड़ता है । जब महात्मा जी ने ब्रिटिश सरकार को कर हटाने को कहा पर उन्होंने यह बात ठुकरा दी ।

  • इसके बाद से ही महात्मा जी ने दांडी जाकर समुद्र के पानी से नमक बनाने का सोचा | 

  • धनी से कहा कि गाँधी जी को पैदल न चलकर बस या ट्रेन से जाना चाहिए ।

  • तभी बिंदा चाचा कहा जब वे इस लम्बी दूरी को पैदल पूरा करेंगें तो यह ख़बर अखबारों में ,रेडियो पर फैल जाएगी और पूरी दुनिया जान जाएगी कि हम अपनी स्वतंत्रता के लिए लड़ रहे हैं। 

  • यह सब ब्रिटिश सरकार के लिए यह बड़ी शर्म की बात होगी । 

  • इतना सुनकर धनी वहां जाने को तैयार हो गया |

  • धनी के पिता ने चरखा रोककर उसे बताया कि जिन लोगों को महात्मा जी ने चुना है वे ही वहां जा सकते है | 

  • यह बात सुनकर अगले दिन सुबह वह  गाँधी जी को ढूंढ़ने निकला | उसने उनसे मिलकर खुद उनके साथ जाने की बात कही ।

  • गाँधी जी ने उसे समझाया लेकिन वह नहीं माना ।अंत मे गाँधी जी ने धनी को बिन्नी की देखभाल करने को कहा।

  • धनी उनकी यह बात मान गया और उन सब लोगों का इंतजार करने लगा ।


नैतिक शिक्षा:

इस कहानी से हमें यह शिक्षा मिलती है हमें सदा अपने कर्त्तव्य के प्रति ईमानदार रहना चाहिए और राष्ट्र हित के बारे मे सोचना चाहिए ।


शब्द - अर्थ:

शब्द

अर्थ

वाक्य में प्रयोग

अक्लमंद

होशियार

धनी बहुत अक्लमंद था |

बुद्धू

बेवकूफ

सुरेश बहुत बद्धु है ।

खिलाफ

  विरोध

गाँधी जी ने अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई लडी | 

सत्याग्रह 

सत्य के लिए आग्रह करना

गाँधी जी ने देश की भलाई के लिए अनेक सत्याग्रह किए |

मनाही

  रोक 

तुम्हें यहां जाने की मनाही है ।

हिम्मत

साहस

हमें कभी भी हिम्मत नहीं हारनी चाहिए ।


प्रश्न - उत्तर:

प्रश्न 1. आश्रम में रहने वाली बकरी का क्या नाम था ?

उत्तर: आश्रम में रहने वाली बकरी का नाम बिन्नी था l


प्रश्न 2. धनी जिस आश्रम में रहता था उसका क्या नाम था ?

उत्तर: धनी जिस आश्रम में रहता था उसका नाम साबरमती था l


प्रश्न 3. गांधीजी ने अपनी पैदल यात्रा कौन से स्थान तक की ?

उत्तर: गांधी जी ने अपनी पैदल यात्रा दांडी नामक स्थान तक की I


प्रश्न 4. गांधी जी ने दांडी जाकर नमक बनाने का निर्णय क्यों किया ?

उत्तर: गांधी जी नमक पर लगने वाले कर को समाप्त करवाना चाहते थे इसी कारण उन्होंने दांडी जाकर नमक बनाने का निर्णय किया  I


अभ्यास प्रश्न:

प्रश्न 1. मिलान करो l

हिम्मत

रोक

मनाही

साहस

बुद्धू

होशियार

अक्लमंद

बेवकूफ

         

उत्तर:  उचित मिलान-

हिम्मत

साहस

मनाही

रोक

बुद्धू

बेवकूफ

अक्लमंद

होशियार


प्रश्न 2. धनी नमक यात्रा में जाने के लिए उत्सुक क्यों हो गया था ?

उत्तर: धनी को स्वतंत्रता की लड़ाई में भाग लेना था और वह गांधीजी के काम से प्रभावित था इसी कारण वह नमक यात्रा में जाने के लिए उत्सुक हो गया था l


प्रश्न 3. इस पाठ से आपको क्या सीख मिली ?

उत्तर: इस पाठ से हमें यह सीख मिली कि हमें सदा अपने कर्त्तव्य के प्रति ईमानदार रहना चाहिए और राष्ट्र हित के बारे मे सोचना चाहिए ।


प्रश्न 4. स्टोव और मिट्टी के चूल्हे में आग जलाने के लिए किस वस्तु का उपयोग किया जाता है ?

उत्तर: स्टोर में मिट्टी का तेल और मिट्टी के चूल्हे में लकड़ी का उपयोग किया जाता है l


प्रश्न 5. नीचे लिखे गए शब्दों का अर्थ बताओ l

(क) स्वतंत्रता 

उत्तर:  किसी भी काम को करने की पूरी आजादी मिलना l

(ख) खादी 

उत्तर: चरखे पर सूत को कातने के लिए बनाया गया घरेलू मोटा कपड़ा।

(ग) चरखा 

उत्तर: धागे को कातने का लकड़ी का एक उपकरण।


प्रश्न 6. गाँधीजी रोज सुबह क्या किया करते थे ?

उत्तर: गाँधीजी रोज सुबह आश्रम में टहलते थे और उसके बाद चरखा कातते थे।


प्रश्न 7. धनी गाँधीजी से सुबह के समय ही बात क्यों करना चाहता था ?

उत्तर: सुबह के समय गाँधीजी आश्रम में अकेले ही पैदल घूमते थे और उस समय उनसे मिलना आसान था इसलिए धनी गांधी जी से सुबह के समय ही बात करना चाहता था l


प्रश्न 8. नीचे लिखे गए वाक्य में विशेषता बताने वाला शब्द लिखो l

(क) गरमा गरम हलवा 

उत्तर:  गरमा गरम

(ख) लाल चींटी 

उत्तर:  लाल 

(ग) तिरंगा झंडा 

उत्तर: तिरंगा


Importance of Class 4 Hindi Chapter 9 Summary 

The NCERT solutions class 4 chapter 9 Hindi are provided in the revision notes to help students fortify the concept of the chapter in their minds. This chapter is about a young girl named Dhani who lived in the Sabarmati Ashram with her parents. The story is set during the time when Gandhiji made plans to go for the Dandi March. Dhani learned from a person living in the Ashram that Gandhiji, as a protest against the Salt Tax, will march to Dandi and make salt from the sea water there.

 

Energized by the idea, Dhani wanted to join the march and went to find Gandhiji in the ashram. After a lot of searching, she finally found him and asked Mahatma Gandhi if she could join him and his followers in the protest. Very politely, Gandhiji replied that she was too young for the march. He also said that once he returns from the march, he’ll b very tired and would require a lot of milk to get his energy back. So, he asks Dhani to wait for him and get him the milk once he returns, thus pleasing the child.


Benefits of Downloading Class 4 Hindi Chapter 9 PDF

The subject matter experts at Vedantu have given their precious time to create these notes for children to study. Hence, there are a lot of benefits to learning from these notes and some are mentioned below. 

  • The chapter recounts some incidents from the infamous Dandi March led by Mahatma Gandhi. Students will be able to learn a lot about this historic moment by studying this chapter and the revision notes. 

  • The experts have made these notes keeping in mind the CBSE curriculum. So, students can use the notes to prepare well for their exams and score high marks. 

  • After completing the chapter, students can attempt to solve the class 4 Hindi chapter 9 question answer exercises. They can cross-check their answers from the revision notes and worksheets.


Conclusion 

Learn in a smart and efficient manner by downloading free PDF revision notes for class 4 Hindi Swatantrata Ki Aur Chapter. These notes will surely help you get a clear and crisp idea about the chapter and the storyline.


Important Related Links for NCERT Class 4 Hindi

FAQs on Swatantrata Ki Or Class 4 Notes CBSE Hindi Chapter 9 [Free PDF Download]

1. Where was Dhani living in the story Swatantrata ki Or?

Dhani was living with her parents in the Sabarmati Ashram where Gandhiji and his followers lived.

2. What did Dhani ask Mahatma Gandhi?

After hearing the story of how Gandhiji was planning to go to Dandi to protest the Salt Tax on Indians, Dhani wanted to join the movement. So, Dhani asked Gandhiji if she could go with him to Dandi.

3. What was Gandhiji’s reply to Dhani’s request in the story Swatantrata ki Or? 

Gandhiji said that since Dhani was too small, she couldn’t go to Dandi as they would be walking for more than a month to reach there. He also asked Dhani to wait for him. When he returns, Dhani would fetch some milk for him as he would be very tired and would need lots of milk to gain his energy back.

Share this with your friends
SHARE
TWEET
SHARE
SUBSCRIBE