Dost Ki Poshak Class 4 Notes CBSE Hindi Chapter 5 [Free PDF Download]

NCERT Class 4 Hindi Chapter 5 Dost ki Poshak Revision Notes

The syllabus of Hindi class 4 comprises some funny chapters that can make the process of learning less tedious and fun for students. One such chapter from the Hindi syllabus is named Dost Ki Poshak. Students will have a lot of fun reading this chapter.


They can get the necessary help from Dost ki Poshak revision notes to write the questions and answers from the chapter by referring to these revision notes. These notes have been crafted by some of the best teachers at Vedantu, thus ensuring the quality and accuracy of the notes. Download the notes for free from our mobile app or website and prepare the chapter in a better way.


NCERT Solutions for Class 4 Hindi | Chapter-wise List

Given below are the chapter-wise NCERT Solutions for Class 4 Hindi. These solutions are provided by the Hindi experts at Vedantu in a detailed manner. Go through these chapter-wise solutions to be thoroughly familiar with the concepts.

Do you need help with your Homework? Are you preparing for Exams?
Study without Internet (Offline)

Download PDF of Dost Ki Poshak Class 4 Notes CBSE Hindi Chapter 5 [Free PDF Download]

Access Class 4 Hindi Chapter 5 – दोस्त की पोशाक Notes

कहानी का सारांशः

  • इस कहानी में दो दोस्तों के बीच होने वाली बातों का रोचक चित्रण किया गया है ।


Naseeruddin and Jamal


नसीरुद्दीन और जमाल 


  • कहानी के अनुसार एक बार नसीरुद्दीन अपने एक पुराने दोस्त जमाल साहब से मिलकर बहुत खुश हुआ। 

  • दोनों ने कुछ बातें की और मोहल्ले में घूमने निकल गए ।

  • जमाल साहब ने मोहल्ले मे जाने से मना कर दिया । वह अपनी इस मामूली सी पोशाक मे लोगों से नहीं मिलना चाहते थे ।

  • इसके बाद नसीरुद्दीन जमाल के लिए एक अचकन लेकर आए और उसे जमाल को पहनने को दिया ।जमाल ने उसे पहन लिया ।

  • इसके बाद दोनों मोहल्ले में घूमने के लिए निकले lसबसे पहले नसीरुद्दीन जमाल को अपने पड़ोसी के घर लेकर गए I

  • नसीरुद्दीन ने पड़ोसी को बताया कि जमाल ने जो अचकन पहनी है वह उसकी ही है l

  • यह सुनकर जमाल लज्जित हो गया lबाहर आकर जमाल के कहने पर नसीरुद्दीन ने उस से माफी मांगी l

  • अब नसीरुद्दीन अपने दोस्त को हुसैन साहब के पास ले गए l

  • वहां नसीरुद्दीन ने कहा कि यह सुंदर अचकन मेरे दोस्त की ही है l

  • जमाल फिर से नाराज हुए और नसीरुद्दीन से कहां कि वह उसकी पोशाक के बारे में कुछ भी ना कहे l

  • इसकी बात नसीरुद्दीन उन्हें अपने दूसरे पड़ोसी के पास लेकर गए ।

  • वहां नसीरुद्दीन ने कहा कि मेरे दोस्त की इस अचकन के बारे में मैं कुछ भी नहीं कहना चाहता हूं l


नैतिक शिक्षा:

इस कहानी से हमें यह शिक्षा मिलती है जब हम किसी की सहायता करते है तो उसके बारे में किसी को भी नहीं  बताना चाहिए।


शब्द - अर्थ:

शब्द

अर्थ

वाक्य में प्रयोग

पोशाक

कपड़ें

नरेश ने अपनी पोशाक पहन ली है |

गपशप

बातचीत

दोनों मिलकर बहुत गपशप करने लगे ।

बन ठन कर

तैयार होकर

मेघा बनठन कर दिल्ली जा रही है ।  

मुलाकात

मिलना

आज तुमसे बहुत दिन बाद मुलाकात हुई है | 

गर्मजोशी 

उत्साह

सभी लोगों ने सैनिकों का गर्मजोशी के साथ स्वागत किया|

मामूली

साधारण 

यह सवाल तो मामूली सा है ।

अचकन

एक तरह का लंबा पहनावा

जमाल ने आज अचकन पहन रखी है ।


प्रश्न - उत्तर:

प्रश्न 1. नसीरुद्दीन के मित्र का क्या नाम था ?

(क) हुसैन

(ख) जमाल

(ग) बादशाह

उत्तर: जमाल

 

प्रश्न 2. नसीरुद्दीन ने जमाल को क्या पहनने के लिए दिया ?

(क) अचकन

(ख) कमीज

(ग) पेंट

उत्तर: अचकन


प्रश्न 3. जमाल ने मोहल्ले में घूमने से मना क्यों किया था ?

उत्तर:  जमाल ने जो पोशाक पहन रखी थी वह बहुत साधारण थी । वह इस साधारण पोशाक में लोगों से नहीं मिलना चाहता था इसलिए जमाल  ने मोहल्ले में घूमने से मना किया l


प्रश्न 4. नसीरुद्दीन अपने दोस्त को कहां कहां लेकर गया ?

उत्तर: नसीरुद्दीन जमाल को अपने दो पड़ोसियों के पास और उसके बाद हुसैन साहब के घर लेकर गया था l


प्रश्न 5. अचकन किसे कहते हैं ?

उत्तर: अँगरखे की तरह का एक लंबा पहनावा होता है उसे अचकन कहते हैं l


अभ्यास प्रश्न:

प्रश्न 1. मिलान करो l

पोशाक

बातचीत

गपशप

कपड़े

गर्मजोशी

साधारण

मामूली

उत्साह

उत्तर:  उचित मिलान-

पोशाक

कपड़े

गपशप

बातचीत

गर्मजोशी

उत्साह

मामूली

साधारण


प्रश्न 2. निम्न शब्दों में से उचित शब्दों से रिक्त स्थान भरो ।

( माफी, मुलाकात, मना, पड़ोसी, कपड़े )


  • जमाल साहब ने मोहल्ले में घूमने से______कर दिया।

उत्तर: जमाल साहब ने मोहल्ले में घूमने से मना कर दिया।

  • नसीरूद्दीन की जमाल साहब से कई सालों बाद _______ हुई थी।

उत्तर: नसीरूद्दीन की जमाल साहब से कई सालों बाद मुलाकात हुई थी।

  • तुम्हारा________सोच रहा होगा कि मेरे पास अपने_______ ही नहीं हैं।

उत्तर: तुम्हारा पड़ोसी सोच रहा होगा कि मेरे पास अपने कपड़ें ही नहीं हैं ।

  • नसीरूद्दीन ने________ मांगते हुए कहा।

उत्तर: नसीरूद्दीन ने माफी मांगते हुए कहा।


प्रश्न 3. नीचे दिए गए शब्दों का अर्थ लिखकर वाक्य मे प्रयोग करो l

(क) बन ठन कर

उत्तर: तैयार होकर

वाक्य प्रयोग- मेघा बनठन कर दिल्ली जा रही है ।

(ख) मुलाकात

उत्तर: मिलना

वाक्य प्रयोग- आज तुमसे बहुत दिन बाद मुलाकात हुई है |


प्रश्न 4. नसीरुद्दीन और उसका मित्र कितने लोगों से मिले ?

उत्तर:  नसीरुद्दीन और उसका मित्र जमाल  तीन लोगों से मिले थे l


प्रश्न 5. नसीरुद्दीन ने अपने मित्र का परिचय दूसरी बार किससे करवाया ?

उत्तर: नसीरुद्दीन ने अपने मित्र का परिचय दूसरी बार हुसैन से करवाया था ।


प्रश्न 6. मुहावरों के अर्थ बताओ l

(क) बन ठन कर निकलना

उत्तर: तैयार होकर चलना

(ख) घड़ों पानी पड़ना

उत्तर: शर्मिंदा होना

(ग) गर्मजोशी से स्वागत करना

उत्तर:  अत्यधिक उत्साह के साथ स्वागत करना

(घ) मुंह बनाना 

उत्तर: असंतुष्ट होना


प्रश्न 7. नीचे लिखे गए समान शब्द युग्म का अर्थ बताओ l

(क) राज - राज़

उत्तर: राज- शासन करना

राज़- गुप्त बात

(ख) फ़न - फन

उत्तर: फ़न- हुनर

फन- साँप का फैलावदार सिरा

(ग) सजा - सज़ा

उत्तर: सजा- सजावट

सज़ा- दंड


Importance of Dost Ki Posak Class 4 Hindi Chapter 5 Summary 

The story of Dost Ki Poshak Class 4 Hindi chapter is about two friends, Naseeruddin and Jamal. Once when Jamal Sahab went to meet his friend Naseeruddin, the latter wanted to go out. However, Jamal refused the offer saying that he wasn’t wearing a good outfit. So, Naseeruddin gave him one of his outfits and they went out. Reaching a neighbour’s house, Naseeruddin made a remark that Jamal was wearing his outfit, which angered his friend. Jamal asked him not to do that.


After going to another friend, Naseeruddin mentioned that Jamal was wearing his own outfit. Jamal rebuked his friend for mentioning the outfit again and again. However, the next time when they met another friend, Naseeruddin said that he would talk about the outfit, thus annoying his friend once more.


The Class 4th Hindi Chapter 5 Dost Ki Poshak is a very funny story that students will definitely enjoy a lot. Also, they can learn new and interesting Hindi words from the chapter as well as the worksheets provided by Vedantu.


Benefits of Revision Notes for Dost Ki Poshak Class 4 Chapter 5

Mentioned below are some important benefits of downloading and studying the Dost Ki Poshak Class 4 Chapter 5.

  • Students will be able to learn new phrases and words that have been included in the chapter. There are worksheets provided which are useful for conveying the meaning of these words.

  • The revision notes have been designed by learned subject matter experts at Vedantu and are on par with the CBSE guidelines and standards. So, students will definitely be able to prepare well for their exams with these notes.

  • In case you might have missed something in your class about this chapter, these revision notes will help you get the full scope of the lesson and revise it quickly before the exams. 

  • Students can attempt Dost Ki Poshak question answers given in the exercises and in the worksheet and cross-check their answers from the solutions provided by us.


Download Dost Ki Poshak Notes for Class 4 Hindi Chapter 5 

Now you can download the revision notes and worksheets of Dost Ki Poshak Class 4 PDF for free from the official website and mobile app of Vedantu. Learn the notes by heart and solve questions asked from the chapter using the reference of worksheets.


Important Related Links for NCERT Class 4 Hindi

 


FAQs on Dost Ki Poshak Class 4 Notes CBSE Hindi Chapter 5 [Free PDF Download]

1. Why did Jamal Sahab not want to go outside?

Jamal Sahab didn’t want to go out because he didn’t have a good enough outfit that could be worn outside the house so he was embarrassed to go out.

2. What did Naseeruddin do to make his friend angry?

When they ran into some of Naseeruddin’s friends, he would always bring out the topic of the outfit when introducing Jamal, thus making him angry.

3. Are the revision notes for NCERT Class 4 Hindi Chapter 5 helpful for exam preparation?

Yes, the Class 4 Chapter 5 Hindi revision notes are extremely helpful since you can get a full idea about the chapter and answer questions asked in the exercises. Also, these revision notes prove to be very useful during the last-minute revisions before the exam.

Share this with your friends
SHARE
TWEET
SHARE
SUBSCRIBE