Courses
Courses for Kids
Free study material
Offline Centres
More
Store Icon
Store

NCERT Solutions for Class 7 Hindi Chapter 7 - Pappa Kho Gaye

ffImage
Last updated date: 29th May 2024
Total views: 478.2k
Views today: 8.77k
MVSAT offline centres Dec 2023

Class 7 Hindi Vasant NCERT Solutions for Chapter - 7 Pappa Kho Gaye

Class 7th Hindi Vasant Solutions are prepared by teachers at Vedantu with years of expertise and knowledge. These NCERT Solutions are written in a very simple language to facilitate better understanding and effective learning. It is the best learning resource for students who want to improve their grades and gain insight into the subject. Vedantu provides you the NCERT Solutions Class 7 Hindi Vasant Chapter 7 prepared by the subject experts with rigorous efforts. These NCERT Solutions for Class 7 Hindi Vasant Chapter 7 will help you to develop conceptual understanding of the chapter and the answer writing pattern.

'Papa Khoye Gaye' is a drama composed by Vijay Tendulkar. With this, the writer warns kids to stay unified and avoid anti-social elements. Students can download these NCERT Solutions for free from Vedantu. Subjects like Science, Maths, English, Hindi will become easy to study if you have access to NCERT Solution for Class 7 Science, Maths solutions and solutions of other subjects. You can also download NCERT Solutions for Class 7 Maths to help you to revise complete syllabus and score more marks in your examinations.


Class:

NCERT Solutions for Class 7

Subject:

Class 7 Hindi

Subject Part:

Hindi Part 2 - Vasant

Chapter Name:

Chapter 7 - Pappa Kho Gaye

Content-Type:

Text, Videos, Images and PDF Format

Academic Year:

2024-25

Medium:

English and Hindi

Available Materials:

  • Chapter Wise

  • Exercise Wise

Other Materials

  • Important Questions

  • Revision Notes

Popular Vedantu Learning Centres Near You
centre-image
Mithanpura, Muzaffarpur
location-imgVedantu Learning Centre, 2nd Floor, Ugra Tara Complex, Club Rd, opposite Grand Mall, Mahammadpur Kazi, Mithanpura, Muzaffarpur, Bihar 842002
Visit Centre
centre-image
Anna Nagar, Chennai
location-imgVedantu Learning Centre, Plot No. Y - 217, Plot No 4617, 2nd Ave, Y Block, Anna Nagar, Chennai, Tamil Nadu 600040
Visit Centre
centre-image
Velachery, Chennai
location-imgVedantu Learning Centre, 3rd Floor, ASV Crown Plaza, No.391, Velachery - Tambaram Main Rd, Velachery, Chennai, Tamil Nadu 600042
Visit Centre
centre-image
Tambaram, Chennai
location-imgShree Gugans School CBSE, 54/5, School road, Selaiyur, Tambaram, Chennai, Tamil Nadu 600073
Visit Centre
centre-image
Avadi, Chennai
location-imgVedantu Learning Centre, Ayyappa Enterprises - No: 308 / A CTH Road Avadi, Chennai - 600054
Visit Centre
centre-image
Deeksha Vidyanagar, Bangalore
location-imgSri Venkateshwara Pre-University College, NH 7, Vidyanagar, Bengaluru International Airport Road, Bengaluru, Karnataka 562157
Visit Centre
View More

Access NCERT Solutions for Hindi Vasant Chapter - 7 पापा खो गए

प्रश्नावली 

नाटक से- 

1. नाटक में आपको सबसे बुद्धिमान पत्र कौनसा लगा और क्यों ?

उत्तर: नाटक में सबसे समझदार पत्र कौआ है क्योंकि कौआ की बुद्धि के कारण ही लेटरबोक्स संदेशा लिख पाता है एवं लड़की उस दुष्ट आदमी से बच जाती है। इसके अलावा कौए के पास सभी समाचार रहते हैं जिसे वह सबको घूम-घूम कर बताता है और वह उनके काम भी आती है।


2. पेड़ और खम्भे में दोस्ती कैसे हुई?

उत्तर: पेड़ और खंभा हमेशा एक दूसरे के साथ रहते थे। इसके बावजूद भी खंभा अपनी अकड़ के कारण पेड़ से कुछ नहीं बोलता था। लेकिन एक दिन ज़ोर से आँधी आयी। आँधी के कारण गिरते हुए खम्भे को पेड़ अपने ऊपर चोट लेकर सरलता से बचा लेता है तो खम्भे का घमंड टूट जाता है और उन दोनो में दोस्ती हो जाती है।


3. लेटरबोक्स को सभी लाल ताऊ कहकर क्यों पुकारते थे? 

उत्तर: लेटरबोक्स का रंग लाल था और वह पूरी तरह से लाल रंग में रंगा हुआ था। साथ ही लेटरबोक्स की बातें हमेशा बड़ों जैसी और समझदारों वाली होती थी इसीलिए सभी उसे प्यार से लाल ताऊ कहकर पुकारते थे। 


4. लाल ताऊ किस प्रकार बाक़ी पात्रों से भिन्न है?

उत्तर: लाल ताऊ सभी पात्रों से इसलिए भिन्न है क्योंकि सभी पात्रों में केवल लाल ताऊ को ही पढ़ना लिखना आता है। वह इधर उधर भी जा सकता है व नाच भी सकता है। लाल ताऊ दोहे व भजन भी गाता है इसीलिए वह बाक़ी सभी से अलग है।


5. नाटक में बच्ची को बचानेवाले पात्रों में एक ही सजीव पात्र है। उसकी कौन कौन सी बातें आपको मज़ेदार लगी? लिखिए। 

उत्तर: नाटक में बच्ची को बचानेवाले पात्रों में एक ही सजीव पात्र है और वह है कौआ। कौए की कुछ मज़ेदार बातें निम्नलिखित है- 

(क) “वह दुष्ट है कौन ? पहले उसे नज़र तो आने दीजिए।”

(ख) लड़की के नींद से जग जाने तथा “कौन बोल रहा” पूछने पर कहना- “मैंने नहीं किया” ।

(ग) सुबह जब हो जाए तो पेड़ राजा, आप अपनी घनी छाया इस पर किए रहे। वह आराम से देर तक सोयी रहेगी।


6. क्या वजह थी कि सभी पात्र मिलकर भी लड़की को उसके घर नहीं पहुँचा पा रहे थे? 

उत्तर: नाटक के सभी पात्र लड़की को लेकर चिंता में थे और वे सभी उस लड़की को उसके घर पहुँचाना चाहते थे परंतु यह सम्भव नहीं हो पा रहा था क्योकि लड़की की उम्र बहुत कम थी और वह बहुत भोली थी । उसे अपने घर का रास्ता भी नहीं पता था । यहाँ तक कि उसे अपने पापा का नाम तक भी नहीं पता था। इन सभी वजहों से लड़की को उसके घर पहुँचानें में मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा था।


नाटक से आगे - 

1. मराठी से अनुदित इस नाटक का शीर्षक ‘पापा खो गए’ क्यों रखा गया होगा? अगर आपके मन में कोई दूसरा शीर्षक हो तो सुझाइए और साथ में कारण भी बताइए। 

उत्तर: बच्ची बहुत छोटी थी और उसे अपने घर का पता व अपने पिता का नाम तक भी नहीं पता था। इस नाटक में सभी पात्र मिलकर केवल बच्ची के पिता को ढुंढने के उपाय ढूँढ रहे है , इसी वजह से इस एकांकी का शीर्षक ‘पापा खो गये’ रखा गया होगा। इस नाटक में बच्ची अपने पिता से बिछड़ कर खो गयी है। एकांकी का शीर्षक लापता बच्ची भी रखा जा सकता था, क्योंकि नाटक के अधिकांश हिस्से में बच्ची के ही नाम, पते को जानने की कोशिश की जा रही है।


2. क्या आप बच्ची के पापा को खोजने का नाटक से अलग कोई और तरीक़ा बता सकते है?

उत्तर: वर्तमान समय में सभी लोग एक दूसरे से जुड़े होते है। बच्ची के पिता को खोजने के लिए पुलिस स्टेशन जाकर बच्ची का ब्योरा पुलिस को दिया जा सकता है जिससे पुलिस ख़ुद बच्ची का पता ढूँढ कर बच्ची को उसके घर पहुँचा देगी। इसके अलावा अख़बारों में, दूरदर्शन पर, सोशल मीडिया जैसे- फ़ेसबुक और वट्सऐप की मदद से बच्ची की गुमशुदा की ख़बर दी जा सकती है।


अनुमान और कल्पना - 

1. अनुमान लगाइए कि जिस समय बच्ची को चोर ने उठाया होगा वह किस स्थिति में होगी? क्या वह पार्क/ मैदान में खेल रही होगी या घर से रूठ कर भाग गयी होगी या कोई अन्य कारण होगा?

उत्तर: इस नाटक को पढ़ कर ऐसा लगता है कि बच्ची को उसके घर से उठाया गया था क्योंकि जिसने बच्ची को उठाया था वो कहता है कि- “अभी-अभी एक घर से ये बच्ची उठाई है मैंने, गहरी नींद में सो रही थी”। इसके अलावा अगर बच्ची को किसी पार्क या मैदान से उठाया गया होता तो बच्ची जाग गयी होती ओर चीख़ती चिल्लाती जिससे वहां पर मौजूद आस पास के लोग इक्कठा हो गये होते। परंतु ऐसी किसी घटना का नाटक में वर्णन नहीं हुआ है। अतः बच्ची को सोते हुए उसके घर से ही उठाया गया होगा। 


2. नाटक में दिखाई गयी घटना को ध्यान में रखते हुए यह भी बताइए कि अपनी सुरक्षा के लिए बच्चें आज कल क्या-क्या कर सकते है।संकेत के रूप में नीचे कुछ उपाय सुझाए जा रहे है। आप इससे अलग कुछ और उपाय लिखिए। 

* समूह में चलना 

* एकजुट होकर बच्चा उठानेवालों या ऐसी घटनाओं का विरोध करना। 

* अनजान व्यक्तियों से सावधानीपूर्वक मिलना।

उत्तर

* छोटे बच्चों को हमेशा अपने माता पिता या फिर घर के किसी बड़े के साथ ही बाहर जाना चाहिए।और उनका हाथ पकड़ कर रखना चाहिए।

* किसी भी अनजान व्यक्ति द्वारा किसी भी प्रकार की चीज़ें नहीं लेनी चाहिए।

* अगर कोई भी अनजान व्यक्ति आपको किसी भी चीज़ का लालच दे या फिर आपको परेशान करे तो उसका विरोध करना चाहिए। जिससे कि आपके आस पास के लोग आपकी सहायता के लिए आ जाए।


भाषा की बात - 

1. आपने देखा होगा कि नाटक के बीच - बीच में कुछ निर्देश दिए गये है। ऐसे निर्देशो से नाटक के दृश्य स्पष्ट होते है, जिन्हें नाटक खेलते हुए मंच पर दिखाया जाता है, जैसे- ‘सड़क / रात का समय...... दूर कहीं कुत्तों के भौकने की आवाज़।’ यदि आपको रात का दृश्य मंच पर दिखाना हो तो क्या-क्या करोगे, सोचकर लिखिए। 

उत्तर: रात का समय दिखाने के लिए मंच की रोशनी कम की जा सकती है काला कपड़ा लगाया जा सकता है। मंच पर कुछ तारें व एक चाँद भी लगाया जा सकता है। मंच की सभी लाइट को बंद कर सकते है । रात के दृश्य को और भी सजीव बनाने के लिए आधी रात में अंधेरे में केवल एक रोशनी लगायी जा सकती है। 


2. पाठ को पढ़ते हुए आपका ध्यान कई तरह के विराम चिह्नों की ओर गया होगा। अगले पृष्ठ पर दिए गये अंश से विराम चिह्नों को हटा दिया गया है। ध्यानपूर्वक पढ़िए तथा उपयुक्त चिह्न लगाइए- 

मुझ पर भी एक रात आसमान से गड़गड़ाती बिजली आकर पड़ी थी अरे बाप रे वो बिजली थी या आफ़त याद आते ही अब भी दिल धक-धक करने लगता है और बिजली जहाँ गिरी थी वहाँ खड्डा कितना गहरा पड़ गया था खम्भे महाराज अब जब कभी बारिश होती है तो मुझे उस रात की याद हो आती है अंग थर थर काँपने लगते है। 

उत्तर: पाठ से लिए गए उपयुक्त खंड को ध्यान से पढ़ने के पश्चात निम्न प्रकार से विराम चिह्न एवं अल्प विराम चिह्नों को लगाया जा सकता है। 

मुझ पर भी एक रात आसमान से गड़गड़ाती बिजली आकर पड़ी थी। अरे, बाप रे! वो बिजली थी या आफ़त;  याद आते ही अब भी दिल धक-धक करने लगता है और बिजली जहाँ गिरी थी, वहाँ खड्डा कितना गहरा पड़ गया था। खम्भे महाराज! अब जब कभी बारिश होती है तो मुझे उस रात की याद हो आती है, अंग थर थर काँपने लगते है। 


3. आस- पास की निर्जीव चीज़ों को ध्यान में रखकर कुछ संवाद लिखिए, जैसे-

* चॅाक का ब्लैक बोर्ड से संवाद

* क़लम का कॉपी से संवाद

* खिड़की का दरवाज़े से संवाद

उत्तर

* चॅाक का ब्लैक बोर्ड से संवाद- 

चॅाक- मैं कितनी गोरी हूँ ।

ब्लैक बोर्ड- हाँ वो तो तुम हो ।

चॅाक- और तुम कितने काले हो ।

ब्लैक बोर्ड- हम दोनों कितने अलग-अलग है ना? 

चॅाक- हाँ, पर तुम काले हो तभी मैं तुम पर सब लिख पाती हूँ और सुंदर लगता है।

ब्लैक बोर्ड- हाँ और सब बच्चें पढ़ते है।


* क़लम का काॅपी से संवाद -

क़लम- मैं सभी को बहुत ज़्यादा प्रिय हूँ।

काॅपी- हाँ वो तो तुम हो ।

क़लम- सभी लोग हमेशा मुझे अपने पास रखते है

काॅपी- हाँ, क्योंकि तुम्हारी ज़रूरत सबको पड़ती रहती है ना। 

क़लम- तुमको पता है एक बात?

काॅपी- क्या बात? बताओ तो!

क़लम- मुझे लगता है ना कि इस दुनिया में मेरे बिना कुछ नहीं हो सकता।

काॅपी- देखो क़लम तुम अच्छी हो और सबको तुम्हारी ज़रूरत हमेशा रहती है परंतु ऐसे घमंड नहीं करते ।

क़लम- क्यों बात तो सही है ना, तुम क्या जानो ख़ुद एक जगह पड़ी रहती हो जब मेरा मन करे आकर तुम पर लिख कर चली जाती हूँ।

काॅपी- तुम चाहें कितनी भी ख़ूबसूरत हो जाओ या फिर कितना ही लोगों की पसंद बन जाओ पर लिखने के लिए तो तुम्हें मुझसे ही काग़ज़ माँगना पड़ेगा ना इसलिए हमें कभी घमंड नहीं करना चाहिए।

क़लम- ठीक है काॅपी, मुझे माफ़ करदो।


* खिड़की का दरवाज़े से संवाद

खिड़की- भैया हम दोनो के नए-नए पर्दे कितने अच्छे हैं ना ?

दरवाज़ा- हाँ, खिड़की बहुत अच्छे हैं और एक जैसे भी हैं!

खिड़की- एक जैसे तो हैं पर आपके पर्दे बड़े क्यों हैं?

दरवाज़ा- खिड़की मेरे पर्दे बड़े इसलिए है क्योंकि अगर छोटे रह गये तो नीचे से तो सब दिखेगा ना?

और मैं लम्बा भी हूँ इसीलिए बड़े पर्दे चाहिए ना ।

खिड़की- पर भैया मेरे पर्दे बड़े कब होंगे?

दरवाज़ा- जब तुम बड़ी हो जाओगी तो तुम्हारे पर्दे भी बड़े हो जाएँगे।


4. उपर्युक्त में से दस पंद्रह संवादों को चुने उनके साथ दृश्यों की कल्पना करे और छोटा सा नाटक लिखने का प्रयास करे। इस काम में अपने सिक्षक से सहयोग ले।

उत्तर: एक दिन स्कूल की किसी कक्षा में क़लम, काॅपी, ब्लैक बोर्ड और खिड़की आपस में बातें कर रहे थे- 

क़लम- यह कक्षा मेरे बिना अधूरी है। क्योंकि मेरी वजह से ही सभी बच्चें पढ़ पाते है।

काॅपी- यह असम्भव है क्योंकि अगर मैं ही नहीं होती तो तुम किस पर लिखती।

क़लम- तुमसे ज़्यादा लोग मुझे प्यार करते है इसी लिए वे मुझे हमेशा अपने पास रखते है।

काॅपी- बात तो तुम सही कर रही हो परंतु मेरे बिना तुम अधूरी हो।

दोनो में झगड़ा होने लगता हैं।

खिड़की- चुप! सबसे महत्वपूर्ण मैं हूँ क्योंकि मेरे वजह से ही कक्षा में शुद्ध वायु आती है और सभी बच्चें स्वस्थ रहते है। जब बच्चे स्वस्थ रहेंगे तभी वह पढ़ सकते है। 

तीनों की लड़ाई होने लगती है फिर ब्लैक बोर्ड बोलता है-

ब्लैक बोर्ड- तुम सभी लोग पागल हो जो आपस में लड़ रहे हो हम सभी एक दूसरे पर निर्भर है और अगर हम सब में से कोई भी नहीं होगा तो सभी का काम रुक जायगा। 


NCERT Solutions of Class 7 Hindi Vasant Chapter 7

Papa Kho Gaye is written by Vijay Tendulkar, in which he depicts the agony of inanimate objects like trees, letterboxes, etc. This chapter also shows the concern of the writer towards increasing cases of kidnapping of children.

This story is about the friendship of an electric pole on the road, a tree, a letterbox, and some objects. One day they saw an unfamiliar man carrying a girl. The man had knocked the girl unconscious and she was fast asleep. Somehow they managed to frighten the man and set the girl free.

The girl wakes up because of all the talking. She is surprised to see everyone talking. Everyone is quiet after seeing the girl. The girl begins to cry as she misses her parents and home. The letterbox tells the girl that they also talk like human beings. The girl gets along with them. The crow tells them a way to locate the girl's house. He says- trees and poles would be crooked over the girl in such a way that it seems that an accident has happened there. The pillar says that even if no one would come there, what would happen then? The crow asks the letterbox to write a message. It would be morning after some time. The pillar stood upright, the tree leaned over the sleeping girl, the crow bowed. Papa is written in capital letters on a poster. A dancing girl makes the appearance of a girl with a lost father. In the end, a box of books attracts everyone. He says whoever finds the girl's father, should bring him there.


Vedantu - The Go-to Site for NCERT Solutions

NCERT Class 7 Solutions are prepared by a team of skilled and experienced teachers. While preparing the NCERT Class 7 Solutions, it is kept in mind that the students get to understand the key concepts of the chapters. The experts realize the difficulties you face in learning. For this reason, they have developed NCERT Class 7 Solution PDF that you can use to refer to for doubts.

With the help of Class 7 NCERT Solutions you can learn more quickly and better about the practical exercises followed by every chapter. There are various other advantages of following the NCERT Class 7 Solutions. These include important tips, tricks, and guidelines, and step-by-step exercises and shortcuts. This will naturally help you to solve the NCERT exercises without any problems. Vedantu teachers have expertise and knowledge on the exam pattern. The NCERT Solutions will act as a quick revision guide for the students. These solutions are of great help for the exam preparation.

FAQs on NCERT Solutions for Class 7 Hindi Chapter 7 - Pappa Kho Gaye

1. Why is it Important to Follow NCERT Solutions?

The NCERT Solutions are intended to help every student with relevant answers and information based on the chapters in simple and straightforward language. All the minute details are clearly explained in these NCERT solutions so students can understand complex topics easily and clear all their doubts.


NCERT Solutions offer many important questions and problems for the preparation of the final exams. You can find all those questions in the books and get acquainted with the final board exam pattern. You will find many questions at the end of each chapter in the NCERT books for further practice. Our NCERT solutions are very important because they boost your confidence and strengthen your preparations.

2. Which Platform is Most Suitable for Preparing for my School Exams and Solving NCERT Problems?

Vedantu is the most suitable platform for all your exam requirements. It is one of the best online teaching platforms. With the help of expert teachers, comprehensive content, using technology, it aims to transform the teaching and learning process.


Vedantu offers many study resources such as free live classes and sessions (two-way teacher-student interactions), live doubt sessions, live quizzes, free reading materials, NCERT Solutions, last year's papers, key questions, and performance reports among others. So if you need proper guidance for your exam preparation Vedantu is there to help.

3. What is the importance of the crow in Chapter 7 of Class 7 Hindi Vasant?

The crow plays an important role in the Chapter with its clever thinking. The crow’s instant action sends a message in the letterbox, and because of this message, the girl is saved from the evil person. Moreover, the crow has all the news, and it keeps everyone updated, which helps get all the information. The girl would not have been saved if the crow had not acted smartly.

4. Why is there no friendship between the pole and the tree even though both are so near?

The pole and the tree both are very near, and the pole does not talk to the tree showing the attitude. The attitude is broken into pieces when the harsh winds blow, and the pole is on the verge of falling. However, the tree, not thinking anything else, gets hurt and saves the pole from falling. This changes the attitude of the pole, and both become friends. Even human beings have so much of an attitude, but everyone is humble and polite. Things become very easy.

5. Narrate a few words about the letterbox according to Chapter 7 of Class 7 Hindi Vasant.

In this chapter, the letterbox is liked by everyone and the reason for this red letterbox whose body is red. The letterbox is very intelligent as it talks logically and has meaning in words. This makes it lovable to everyone. Everyone calls the letterbox `Lal tao.’ This is an interesting Chapter, and students will enjoy reading it. 

6. Why was everyone concerned about the small girl in Chapter 7 of Class 7 Hindi Vasant?

All the characters in the lesson were very much worried about the little girl. They wanted to reach her home, but unfortunately, she was very young. She could not tell her home address properly, or neither could she tell her father's name. Hence, it was a very difficult situation to make the little girl reach home safely. Students can refer to NCERT Solutions for Chapter 7 Class 7 Hindi Vasant available free of cost on the Vedantu website and the Vedantu app to learn more about this.

7. What has been emphasized in Chapter 7 of Class 7 Hindi Vasant?

In this Chapter, the author Vijay Tendulkar has portrayed the agony of the objects like trees, letterboxes, etc. The way the author has portrayed the dialogues of each object and the agony and the feeling of the objects is entertaining to read, making the Chapter interesting. This makes learning fun for the students and helps them to learn quickly. The author has shown concern and worry about the kidnapping cases of the children.