NCERT Solutions for Class 9 Hindi Kshitij Chapter 13

NCERT Solutions for Class 9 Hindi Kshitij Chapter 13 - Gram Shree

Class 9 Hindi Kshitij Chapter 13 is on the poem ‘Gram Shree’ written by Sumitra Nandan Pant, one of the best poets of India. She depicted the beautiful scenery of a village during the end of the winter season. It was then the entire village was full of crops. The NCERT Solution Class 9 Hindi Kshitij Chapter 13 covers all the essential points of this chapter, to provide an easy learning experience for students. You can download the NCERT Solutions Class 9 Hindi Kshitij Chapter 13 PDF file from Vedantu for free and refer to them for the exam preparation.

The poet describes a village wherein the fields were greener and the aroma of new crops spread throughout the village. The birds chirping and butterflies prancing on the flowers made this serene village look like heaven. Her words did perfect justice to a place like this. It is her description that brings every element in the poem alive. The NCERT Class 9 Hindi Kshitij Chapter 13 solutions prepared by the experts of Vedantu will help you to answer all the questions given in the practice exercise of this chapter.  

You can also download NCERT Solutions for Class 9 Maths and NCERT Solution for Class 9 Science to help you to revise complete syllabus and score more marks in your examinations.

Do you need help with your Homework? Are you preparing for Exams?
Study without Internet (Offline)
Access NCERT Solutions for Class 9 Hindi Chapter 13 सुमित्रानंदन पन्त part-1

Access NCERT Solutions for Class 9 Hindi Chapter 13 सुमित्रानंदन पन्त

1. कवि ने गाँव को हरता जन मन' क्यों कहा है?

उत्तर: कवि ने गाँव को हरता जन मन' इसलिए कहा है क्योंकि उसकी शोभा अद्वित्य है। प्रस्तुत पंक्तियों में कवि ने पृथ्वी पर फैली चारों तरफ हरियाली को देखकर उसकी प्रशंसा करते हुए कहा है यह सुंदर दृश्य बहुत ही मनमोहक है। धरती पर फैली हरियाली को देखकर उनका हृदय अत्यधिक प्रसन्न है। गांव का यह प्राकृतिक सौंदर्य सबके मन को छूता सा नजर आता है।


2. कविता में किस मौसम के सौंदर्य का वर्णन है?

उत्तर:- कविता में वसंत ऋतु के सौंदर्य का वर्णन है। प्रस्तुत पंक्तियों में कवि ने बसंत ऋतु के सौंदर्य की व्याख्या करते हुए कहा है यह पतझड़ का मौसम होता है इसमें सभी पेड़ पौधों अपने पत्तों का त्याग कर देते हैं। इस ऋतु में नए फूल पत्ते आने लग जाते हैं तथा पेड़ों पर फल उगने लगते हैं और इस मौसम में ही सब्जियां एवं फसलें भी फलने फूलने लगती है।


3. गाँव को ‘मरकत डिब्बे सा खुला' क्यों कहा गया है?

उत्तर: खेतों में हरियाली छाई हुई है। प्रस्तुत पंक्तियों में कवि कहते हैं गांव का भरकत डिब्बे सा खुला इसलिए कहा है क्योंकि चारों तरफ हरियाली छाई हुई है नई फसलें आपस में टकरा कर लहरा रही है और फूल पेड़ों पर रंग बिरंगी तितलियां और भवरे मंडरा रहे हैं इस दृश्य को देखकर ऐसा लग रहा है मानो सभी पेड़ पौधे एवं फूल अपनी सुगंध अपनी चारों तरफ बिखेर रहे हो। सूर्य की किरणों इस हरियाली में चमक एवं सौंदर्य उत्पन्न कर रही है। इसी हरियाली के दर्शन को गाँव को ‘मरकत डिब्बे सा खुला' कहा गया है।


4. अरहर और सनई के खेत कवि को कैसे दिखाई देते हैं ? 

उत्तर:-  प्रस्तुत पंक्तियों मे कवि कहते है कि अरहर और सनई के खेत कवि को ऐसे प्रतीत होते हैं मानो जैसे सुनहरी रंग की करधनी फलियों के रूप में वसुधा ने अपनी कमर पर बांध रखी हो।


5. 1. भाव स्पष्ट कीजिए

बालू के साँपों से अंकित 

गंगा की सतरंगी रेती

उत्तर:- प्रस्तुत पंक्तियों में कवि के द्वारा गंगा नदी के किनारे फैली रेत को सतरंगी बताया गया है। कवि  इस  सुंदर चित्र का वर्णन करते हुए कहते हैं  गंगा की लहरें जब आपस में टकरा खेलती हैं। तो उसमें से बहने वाली रेती उसके किनारे आकर टेढ़ी-मेढ़ी रेखा बना लेती है।जो सूर्य की किरणों से चमकने लग जाती है और साँपों के चलने सी प्रतीत होती है।


2.  भाव स्पष्ट कीजिए

हँसमुख हरियाली हिम आतप 

सुख से अलसाए से सोए

उत्तर:- हरियाली सूर्य के प्रकाश की किरणों में जगमगाती एवं खिलखिलाती हुई हँसमुख सी चारों तरफ फैली नजर आ रही है।सर्दी की धूप भी चारों तरफ बिखरी सी नजर आ रही है। इन्हें देखकर ऐसा प्रतीत होता है जैसे दोनों आलस्य से भरपूर गहरी निंद्रा में सुख से सोई हुई हो।


6. निम्न पंक्तियों में कौन-सा अलंकार है ? 

तिनकों के हरे हरे तन पर

हिल हरित रुधिर है रहा झलक 

उत्तर: हरे हरे- पुनरुक्ति अलंकार है।

हिल हरित अनुप्रास अलंकार है। 

तिनकों के तन पर मानवीकरण अलंकार है।


7. इस कविता में जिस गाँव का चित्रण हुआ है वह भारत के किस भू-भाग पर स्थित है?

 उत्तर:  इस कविता में उत्तरी भारत के गंगा तट पर स्थित किसी गाँव का चित्रण हुआ है।


• रचना और अभिव्यक्ति

8. भाव और भाषा की दृष्टि से आपको यह कविता कैसी लगी ? उसका वर्णन अपने शब्दों में कीजिए।

उत्तर: प्रस्तुत कविता भाव और भाषा दोनों की ही दृष्टि से अपनी और अत्यंत आकर्षित करने वाली और सहज है। प्रस्तुत कविता में कवि के द्वारा प्रकृति का अत्यंत सौंदर्य पूर्ण एवं रोचक तरह से वर्णन किया गया है। कवि के द्वारा प्रकृति का मानवीकरण अत्यंत सहज भाव से किया गया है व कविता की भाषा भी अत्यंत सरल, मधुर तथा अपनी और आकर्षक है। अलंकारों का प्रयोग करके कविता के सौंदर्य में अत्यधिक बढोतरी हुई है।


9. आप जहाँ रहते हैं उस इलाके के किसी मौसम विशेष के सौंदर्य को कविता या गद्य में वर्णित कीजिए।

उत्तर: मेरे दिल्ली शहर की वर्षा

तेज गर्मी  से राहत दिलाने वाली वर्षा 

खुशियों से भीगाने करनेवाली वर्षा

मेरे दिल्ली शहर की वर्षा

चाय की चुस्की और गरमा गरम पकौड़ियों वाली वर्षा 

मरीन ड्राइव पर सागर की अठखेलियोंवाली वर्षा

मेरे दिल्ली शहर की बरसात कीचड़ से लथपथवाली वर्षा

सडकों पर ट्रैफिक जाम कराने वाली वर्षा

मेरे दिल्ली शहर की वर्षा

आपाधापी और रेलमपेलम वाली वर्षा

 मजदूरों से रोटी, रोजी छिनने वाली वर्षा

मेरे दिल्ली शहर की वर्षा

आफिस स्कूलों से छुट्टियाँ दिलाने वाली वर्षा

मन को अंदर तक छू जाने वाली वर्षा

मेरे दिल्ली शहर की वर्षा


Class 9 Hindi Kshitij Chapter 13 - Sumitranandan Pant

Summary of Class 9 Hindi Kshitij Chapter 13: Gram Shree

The pristine beauty of the agricultural fields, the fragrance of the new fresh crops, and the chirping of birds remind us of the beautiful scenes of a village. There is no hustle-bustle like a city. Every person in the village seems to be very happy with their harvest. The fruits on the trees are waiting to be plucked. The wonderful colors of the fruits and flowers make this village more beautiful. It is the fall of winter that gives birth to new life. The crops have started to bear fruit. The endless fields of wheat give a natural feeling of happiness that cannot be explained with words.

River Ganga is flowing on her own way cutting the sand dunes in the banks. Crocodiles sunbathing n the banks. A white heron was seen combing his chest hairs with his slender legs. You can literally imagine a village if you read these lines and close your eyes. This is the elegance of the poetess and her words. The chapter ends with conceptual questions that students need to answer correctly. For this, you will need the assistance of Class 9 Hindi Kshitij Chapter 13 solutions prepared by the top Hindi mentors of Vedantu.


Proper Answers Following Class 9 Hindi Kshitij Chapter 13 Solutions

Answering literature-based conceptual questions are only possible when you have understood what the poetess has to say in the lines. The picture she painted in her poem ‘Gram Shree’ is very beautiful and commendable. To understand what she meant and wanted to express with her words, you will need to refer to the exact solutions for Class 9 Hindi Kshitij Ch 13 prepared by the best teachers. You can base your answers by following what the experts have written in the solution as they have followed the CBSE guidelines and perfectly expressed what the poetess wanted to depict.


Save Time and Prepare Well With NCERT Solutions Class 9 Hindi Kshitij Chapter 13

Why wait for the entire class when you can easily start learning this chapter on your own? When you have the support of NCERT solutions Class 9 Hindi Kshitij Chapter 13, you can prepare the answers to the exercise questions by understanding what the poetess wanted to explain. The standard answers will surely provide the right base to follow and frame your own answers. You can save a lot of your time by downloading the Class 9 Hindi Kshitij Ch 13 solution PDF to your computer and refer to it offline whenever you want.


Why Prefer Vedantu for Class 9 Hindi Kshitij Ch 13 Solution?

The concise and precise answers for CBSE Class 9 Hindi Kshitij Chapter 13 in the solution are prepared by the experts following the CBSE rules. These answers are ideal to study and prepare your own base. The experts have used simple language for the students. This file can be downloaded for free.

FAQs (Frequently Asked Questions)

1. What Does the Poetess Want to Explain in ‘Gram Shree’?

She painted a serene picture of a village. The end of winter earmarks the growth of wheat and different fruits. The chirping of birds and the peaceful flow of the River Ganges make this village very beautiful. Class 9th Hindi Kshitij Chapter 13 is all about the unspoiled beauty of rural areas in India.

2. Why Prefer Using NCERT Solutions for Class 9 Hindi Kshitij Chapter 13 Gram Shree?

The solutions can be downloaded in PDF format on any device and can be used for preparing the chapter to score better in the exams.

3. How Can Answer Better to the Questions of the Poem ‘Gram Shree’?

When you use NCERT solution Class 9 Hindi Kshitij Chapter 13, you will find an easy and suitable format prepared by the experts to follow. You can practice referring to this solution and answer the questions better.

Share this with your friends
SHARE
TWEET
SHARE
SUBSCRIBE