NCERT Solutions for Class 10 Science Chapter 15 Our Environment in Hindi

VSAT 2022

NCERT Solutions for Class 10 Science Chapter 15 Our Environment in Hindi PDF Download

Download the Class 10 Science NCERT Solutions in Hindi medium and English medium as well offered by the leading e-learning platform Vedantu. If you are a student of Class 10, you have reached the right platform. The NCERT Solutions for Class 10 Science in Hindi provided by us are designed in a simple, straightforward language, which are easy to memorise.


You will also be able to download the PDF file for NCERT Solutions for Class 10 Science in English and Hindi from our website at absolutely free of cost. You can also download NCERT Solutions for Class 10 Maths to help you to revise complete syllabus and score more marks in your examinations.


NCERT, which stands for The National Council of Educational Research and Training, is responsible for designing and publishing textbooks for all the classes and subjects. NCERT textbooks covered all the topics and are applicable to the Central Board of Secondary Education (CBSE) and various state boards.


We, at Vedantu, offer free NCERT Solutions in English medium and Hindi medium for all the classes as well. Created by subject matter experts, these NCERT Solutions in Hindi are very helpful to the students of all classes.

Do you need help with your Homework? Are you preparing for Exams?
Study without Internet (Offline)
NCERT Solutions for Class 10 Science Chapter 15 Our Environment in Hindi part-1

Access NCERT Solutions for Class 10 Science Chapter 15 – हमारा पर्यावरण

प्रश्नावली

1. निम्न में से कौन-से समूहों में केवल जैव निम्नीकरणीय पदार्थ हैं -

(a) घास, पुष्प तथा चमड़ा |

(b) घास, लकड़ी तथा प्लास्टिक |

(c) फलों के छिलके, वेफक एवं नींबू का रस |

(d) केक, लकड़ी एवं घास |

उत्तर: (a) घास, पुष्प तथा चमड़ा |

(b) घास, लकड़ी तथा प्लास्टिक |

(d) केक, लकड़ी एवं घास |


2. निम्न से कौन आहार शृंखला का निर्माण करते हैं-

(a) घास, गेहूँ तथा आम |

(b) घास, बकरी तथा मानव |

(c) बकरी, गाय तथा हाथी |

(d) घास, मछली तथा बकरी |

उत्तर: (b) घास, बकरी तथा मानव |


3. निम्न में से कौन पर्यावरण-मित्र व्यवहार कहलाते हैं-

(a) बाजार जाते समय सामान के  लिए कपड़े का थैला ले जाना |

(b) कार्य समाप्त हो जाने पर लाइट ( बल्ब ) तथा पंखे का स्विच बंद करना |

(c) माँ द्वारा स्कूटर से विद्यालय छोड़ने के  बजाय तुम्हारा विद्यालय तक पैदल जाना|

(d) उपरोक्त सभी |

उत्तर: (d) उपरोक्त सभी|


4. क्या होगा यदि हम एक पोषी स्तर के  सभी जीवों को समाप्त कर दें ( मार डाले )?

उत्तर: प्रकृति की खाद्य श्रृंखलाएं एक-दूसरे से जुड़ी हैं| किसी भी कड़ी को यदि समाप्त किया जाए तो पर्यावरण का संतुलन बिगड़ जाएगा| यदि एक पोषी स्तर के जीवों को हम पूरी तरह खत्म कर दें तो उसके अगले स्तर के जीवों को खाना नहीं मिलेगा और वह भी मर जाएगा और ऊर्जा का प्रवाह भी समाप्त हो जाएगा |साथ ही उनके पहले के स्तर वाली जीवों की जनसंख्या बढ़ जाएगी और खाद्य श्रृंखला का संतुलन बिगड़ जाएगा| उदाहरण: यदि हम श्रृंखला से शेरों को हटा दें तो घास चरने वाले हिरण की संख्या बहुत बढ़ जाएगी| उनकी बड़ी हुई जनसंख्या घास और वनस्पति को खत्म कर देगी जिससे वह स्थान रेगिस्तान बन जाएगा|


5. क्या किसी पोषी स्तर के सभी सदस्यों को हटाने का प्रभाव भिन्न-भिन्न पोषी स्तरों के लिए अलग-अलग होगा? क्या किसी पोषी स्तर के जीवों को पारितंत्र को प्रभावित किए बिना हटाना संभव है?

उत्तर: हाँ, पोषी स्तर के सभी जीवों को हटाने का प्रभाव अलग-अलग पोषी स्तरों के लिए अलग-अलग होता है|यदि सभी उत्पादक मर जाएंगे तो यह परिस्थिति प्राथमिक उपभोक्ताओं की मौत तथा प्रवास का कारण बन जाएगी| उत्पादकों के ना होने से उपभोक्ताओं के बाद के स्तर पर भी प्रभाव पड़ेगा परंतु अगर प्राथमिक उपभोक्ताओं को हटा देते हैं तो उस पोषी स्तर के जीवों की मौत हो जाएगी जबकि नीचे के स्तर के उत्पादक पर्यावरण की वाहक क्षमता से अधिक बढ़ेंगे| एक पोषी  स्तर के जीवों को हटाने से पूरे पारितंत्र को प्रभावित किया जा सकता है इसलिए एक पोषी स्तर के जीवों का अस्तित्व अन्य पोषी स्तर के जीवों पर आधारित होता है|


6. जैव आवर्धन क्या है? क्या पारितंत्र के विभिन्न स्तरों पर जैविक आवर्धन का प्रभाव भी भिन्न-भिन्न होगा?

उत्तर : विषैले और हानिकारक रसायनों का खाद्य श्रंखला में प्रवेश होकर और पोषीय स्तर के साथ बढ़ना जैविक आवर्धन कहलाता है।

जैविक आवर्धन का प्रभाव पारितंत्र के अलग-अलग स्तरों पर पड़ता है| धरती से विषैले पदार्थ जैसे कीटनाशक का पेड़-पौधों में प्रवेश होता है और शाकाहारी जीवों से फलों और सब्जियों को सेवन करने से उनके माध्यम से शाकाहारी जीवों में प्रवेश करते हैं| उसके बाद जब मांसाहारी जीवों के द्वारा शाकाहारी जीवों को खाया जाता है तब वही हानिकारक रसायन मांसाहारी जीवों में प्रवेश करते हैं| इस प्रकार से जैविक आवर्धन पोषी स्तर के साथ बढ़ता चला जाता है और हानिकारक पदार्थो का मात्रा पहले पोषिय स्तर से अलग पाया जाता है|


7. हमारे द्वारा उत्पादित अजैव निम्नीकरणीय कचरे से कौन-सी समस्याएँ उत्पन्न होती हैं?

उत्तर: हमारे द्वारा उत्पादित अजैव निम्नीकरणीय कचरे से निम्नलिखित समस्याएँ उत्पन्न होती हैं:

1. अजैव निम्नीकरणीय कचरे से पर्यावरण प्रदूषित होते हैं| इसको विघटित नहीं किया जा सकता है|अतः इसे समाप्त करने में भी समस्या उत्पन्न होती है| 

2. यह जैविक आवर्धन को बढ़ाता है| जैविक आवर्धन से तात्पर्य हानिकारक रसायनों जैसे: डी.डी.टी का खाद्य श्रंखला में प्रवेश करना और पोषीय स्तर के साथ बढ़ते जाना है|

3. पारितंत्र को नुकसान होता है|

4. जो हानिकारक रसायन भूजल से बचता है वो भीतर जाकर मिट्टी की बांझपन और पीएच में गड़बड़ी का कारण बनता है|


8. यदि हमारे द्वारा उत्पादित सारा कचरा जैव निम्नीकरणीय हो तो क्या इनका हमारे पर्यावरण पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा?

उत्तर: जैव निम्नीकरणीय कचरे का निपटान आसान है और इसको अपघठित करके दोबारा प्रयोग में लाया जा सकता है| जैव निम्नीकरणीय पदार्थ जीवाणुओं, बैक्टीरिया द्वारा अपघटित किए जाते हैं और इस प्रकार पर्यावरण में संतुलन बनाए रखते हैं| अतः यदि जैव निम्नीकरणीय कचरे का ठीक से निम्नीकरणीय निपटान कर दिया जाए तो इनका हमारे पर्यावरण पर कोई बुरा प्रभाव नहीं पड़ेगा| लेकीन, जैव नीमनिम्नीकरण की मात्रा अगर बढ़ जाय तो इसके गलत प्राभव कुछ इस प्रकार है -

1.इनसे निकले कुछ विषैले गैस हमारे फेफड़ो को संक्रमित कर सकते है|

2. जहां जैव निम्नीकरण भारी मात्रा में एकत्रित होते है वह विषैले जीव उत्पन्न होते है जो कि हमारे लिए हानिकारक है|


9. ओजोन परत की क्षति हमारे लिए चिंता का विषय क्यों है। इस क्षति को सीमित करने के लिए क्या कदम उठाए गए हैं?

उत्तर : ओजोन परत की क्षति हमारे लिए चिंता का विषय है क्योंकि वायुमंडल की ऊपरी सतह में ओजोन एक आवश्यक अंग है| यह परत सूर्य से पृथ्वी पर आने वाली पैराबैंगनी विकिरण से पृथ्वी की सुरक्षा करती है| यह विकिरण मनुष्य के लिए नुकसानदायक होती है| ओजोन परत की क्षति को घटाने के लिए 1987 में पर्यावरण कार्यक्रम में सर्व अनुमति बनी थी कि सी के उत्पादन को कम रखा जाए|


NCERT Solutions for Class 10 Science Chapter 15 Our Environment in Hindi

Chapter-wise NCERT Solutions are provided everywhere on the internet with an aim to help the students to gain a comprehensive understanding. Class 10 Science Chapter 15 solution Hindi mediums are created by our in-house experts keeping the understanding ability of all types of candidates in mind. NCERT textbooks and solutions are built to give a strong foundation to every concept. These NCERT Solutions for Class 10 Science Chapter 15 in Hindi ensure a smooth understanding of all the concepts including the advanced concepts covered in the textbook.

NCERT Solutions for Class 10 Science Chapter 15 in Hindi medium PDF download are easily available on our official website (vedantu.com). Upon visiting the website, you have to register on the website with your phone number and email address. Then you will be able to download all the study materials of your preference in a click. You can also download the Class 10 Science Our Environment solution Hindi medium from Vedantu app as well by following the similar procedures, but you have to download the app from Google play store before doing that.

NCERT Solutions in Hindi medium have been created keeping those students in mind who are studying in a Hindi medium school. These NCERT Solutions for Class 10 Science Our Environment in Hindi medium pdf download have innumerable benefits as these are created in simple and easy-to-understand language. The best feature of these solutions is a free download option. Students of Class 10 can download these solutions at any time as per their convenience for self-study purpose.

These solutions are nothing but a compilation of all the answers to the questions of the textbook exercises. The answers/ solutions are given in a stepwise format and very well researched by the subject matter experts who have relevant experience in this field. Relevant diagrams, graphs, illustrations are provided along with the answers wherever required. In nutshell, NCERT Solutions for Class 10 Science in Hindi come really handy in exam preparation and quick revision as well prior to the final examinations.

FAQs on NCERT Solutions for Class 10 Science Chapter 15 Our Environment in Hindi

1. What are various topics that are covered in Chapter 15 of Class 10 Science?

The different topics that are covered in Chapter 15 of Class 10 Science are:

  • What are the Results of Adding Our Waste To The Environment?

  • Ecosystem - What Are Its Components?

    • Food Chains and Webs

  • How Do Our Activities Affect The Environment?

    • Ozone Layer and How It is Getting Depleted

    • Managing The Garbage We Produce

In this chapter, students will study how human beings affect the environment and how diverse components in the environment interact with each other. Visit the page NCERT Solutions for Class 10 Science to know more about this chapter.

2. What are the steps of downloading the PDF file of NCERT Solutions of Chapter 15 of Class 10 Science in Hindi?

The steps of downloading the PDF file of NCERT Solutions of Chapter 15 of Class 10 Science in Hindi are:

  • Visit the page of NCERT Solutions for Class 10 Science.

  • The website of Vedantu will open on your screen.

  • At the page header of Vedantu, you will discover the option of "Download PDF".

  • To download the PDF file of NCERT Solutions of Chapter 15 Class 10 Science in Hindi, click that option.

  • The PDF file will be downloaded. You can now study offline using this PDF.

  • For easy studying, take the printout of the PDF file.

3. How to prepare a study plan for students of Class 10 Science for studying Chapter 15?

Keep the following points in mind while making a study plan for students of Class 10 Science for studying Chapter 15:

  • Develop a timetable first.

  • Importance should be given to each subject.

  • Your timetable should have balanced activities.

  • Try to study Science for two hours.

  • Make notes for Chapter 15 of Class 10 Science.

  • Do meditation to keep your mind and body fresh.

  • Solve NCERT textbook questions for a better understanding of Chapter 15 of Class 10 Science.

Previous Examination Question Papers will also help in getting a strong grip over every concept.

4. Decomposers play an important role in the ecosystem. Explain.

The role of decomposers is as follows:

  • They decompose bodies of dead animals and plants and therefore act as a soil cleansing agent of the environment.

  • They make the soil fertile by releasing nutrients into the soil. These nutrients are produced when they decompose dead animals and plants.

  • They maintain the level of nutrients by returning the nutrients to the nutrient pool.

  • They provide space for new life to settle in the environment by decomposing dead plants and animals.

5. Explain why damage to the ozone layer is a topic of concern. What should one do to limit this damage?

The damage to the ozone layer is a topic of concern because if the ozone layer will be depleted in the atmosphere then the harmful ultraviolet radiation from the sun will reach the earth. These radiations then will cause skin cancer in animals and human beings and it will also harm the plants. This depletion is because of using chemicals like CFCs which are used in refrigerators and extinguishers. To stop further depletion, in 1987, UNEP had succeeded in developing a pact to freeze CFC production at 1986 levels.

Share this with your friends
SHARE
TWEET
SHARE
SUBSCRIBE