Courses
Courses for Kids
Free study material
Offline Centres
More
Store Icon
Store

Important Questions for CBSE Class 6 Hindi Vasant Chapter 12 - Sansar Pustak Hai

ffImage
Last updated date: 14th Apr 2024
Total views: 456k
Views today: 12.56k

CBSE Class 6 Hindi Vasant Important Questions Chapter 12 - Sansar Pustak Hai - Free PDF Download

Free PDF download of Important Questions with solutions for CBSE Class 6 Hindi Vasant Chapter 12 - Sansar Pustak Hai prepared by expert hindi teachers from latest edition of CBSE(NCERT) books.

Study Important Questions Class 6 Hindi Vasant पाठ 12 - संस्कार पुस्तक है

अतिलघुउत्तरीयप्रश्न। (1अंक)

1.  इतिहास कौन लिखता है? 

उत्तर: इतिहास विद्वान लिखते हैं।


2. सैकड़ों वर्ष पहले धरती पर मनुष्यों का निवास  क्यों नहीं था? 

उत्तर: सैकड़ों वर्ष पहले धरती का तापमान बहुत ज्यादा था। इसी कारण उस समय धरती पर मनुष्य का निवास नहीं था।


3. प्रकृति के अक्षर क्या है? 

उत्तर: जो अक्षर हमें धरती के बारे में ज्ञान देते हैं, जैसे कि सड़कें, पहाड़, नदियाँ, आदि सब प्रकृति के अक्षर है।


4. यह खत किसने और किसके लिए लिखा है? 

उत्तर: यह खत पंडित जवाहरलाल नेहरू ने अपनी बेटी इंदिरा गांधी के लिए लिखा है।


5. खत में इंग्लैंड को क्या कहा गया है? 

उत्तर: खत में इंग्लैंड को एक छोटा सा टापू बताया गया है।


लघुउत्तरीयप्रश्न (2 अंक)

6. पुराने समय के बारे में सही सही बताना क्यों मुश्किल है? 

उत्तर: पुराने समय के बारे में सही-सही बताना इसलिए मुश्किल है क्योंकि उस समय के लोग आज के लोगों की तरह किताबें नहीं लिखा करते थे और उस समय का जो कुछ भी बचा हुआ था, सभी लगभग नष्ट हो चुका है।


7. लेखक ने संसार-रूपी पुस्तक किस को कहा है? 

उत्तर: लेखक ने संसार-रूपी पुस्तक प्रकृति के अक्षरों, जैसे कि पत्थर, नदियां, पहाड़ों को कहा है, क्योंकि यह हमें संसार के बारे में जानकारी देते हैं।


8. क्या देखकर पता चलेगा कि धरती पर पहले मौसम गर्म हुआ करता था? 

उत्तर: पहले के समय मे पाए जाने वाले इंसानो एवं जानवरों के बचे हुए हड्डियों को देखकर यह पता चलता है कि धरती पर पहले मौसम गर्म हुआ करता था।


9. कोई भी ज़बान सीखने के लिए क्या जरूरी है? 

उत्तर: कोई भी ज़बान, जैसे कि हिंदी, उर्दू, फारसी, आदि सीखने के लिए यह बहुत जरूरी है कि हमें उस ज़बान के अक्षरों के बारे में जानकारी होनी चाहिए।


10.  लेखक ने संसार का छोटा सा पृष्ठ किसे कहा है? 

उत्तर: लेखक ने संसार की पुस्तक का छोटा सा पृष्ठ, एक छोटा-सा रोड़ा जो सड़क पर या पहाड़ के नीचे पड़ा है, जिसे हम कुछ नहीं समझते हैं, उसे कहा है।


लघुउत्तरीयप्रश्न (3अंक) 

11. लेखक लड़की से क्या आशा करते हैं? 

उत्तर: लेखक ने लड़की से यह उम्मीद लगाई है कि वह संसार में फैले अक्षरों को पहचानेगी और केवल किताब में छपे इतिहास को ही नहीं बल्कि अन्य इतिहास को भी पढ़ेगी। लेखक लड़की से यह आशा करते हैं कि लड़की भी उनकी तरह आस-पास की चीजें देखें और अपनी समझ को बढ़ाएं।


12. विद्वानों ने पुराने समय के बारे में जानकारी कहाँ से इकट्ठा किया? 

उत्तर: विद्वानों ने पुराने समय के बारे में जानकारी इकट्ठा करने के लिए पत्थरों, पहाड़ों और नदियों के संरचना को देखा और पुराने समय के जानवरों और इंसानों के हड्डियों का अध्ययन किया। उन्होंने अपने सारे अध्ययनों को एक किताब का रूप दिया। आज वही किताब इतिहास के रूप में जानी जाती है।


13. पत्थरों और पहाड़ों को लेखक ने गौर से देखने को क्यों कहा है? 

उत्तर: पत्थरों और पहाड़ों को लेखक ने गौर से देखने को इसलिए कहा है क्योंकि पत्थरों और पहाड़ों से हमें बहुत कुछ सीखने को मिलता है। इस कहानी में लेखक ने लड़की को पत्थरों और पहाड़ों को गौर से देखने को कहा है क्योंकि लेखक चाहते हैं कि वह लड़की भी अन्य लोगों की तरह, यह संसार रूपी किताब पढ़कर विद्वान बन जाए।


14. संसार-रूपी पुस्तक को विस्तार से समझाइए।

उत्तर: संसार-रूपी पुस्तक में हमें संसार के बारे में विस्तार से बताया गया है। जैसे कि  पहले धरती कैसी थी?, धरती पर पहले कौन रहता था?, पहले के जानवर कैसे होते थे? आदि प्रश्नों का उत्तर हमें संसार-रूपी पुस्तक में मिलता है।


15. धरती पहले कैसी थी? कौन रहता था? 

उत्तर: आज से लाखों-करोड़ों साल पहले इस धरती का जन्म हुआ था। पहले यह धरती बहुत गर्म हुआ करती थी। धरती पर पहले किसी भी प्रकार के जीवन की कोई भी संभावना नहीं थी। धीरे-धीरे जब यह धरती ठंडी हुई, तब यहां जानवरों का जन्म हुआ। जानवरों के जन्म के कई हजार सालों बाद, यहां मानव-जाति का जन्म हुआ।

इतिहासकारों के अनुसार इस धरती पर सबसे पहले पेड़- पौधे, फिर जानवर, और अंत में मानव जाति रहने लगे।


16. रोड़े का उदाहरण देकर लेखक ने क्या समझाया है? 

उत्तर: रोड़े का उदाहरण देकर लेखक ने यहां यह समझाने का प्रयास किया है कि इस पृथ्वी में हर एक चीज होने की एक वजह होती है। यदि मनुष्य उस वजह को समझ जाएगा, तो वह इस पृथ्वी के अनसुलझे रहस्य को सुलझा लेगा।



दीर्घउत्तरीयप्रश्न  (5 अंक)

17. प्रेमचंद का संक्षिप्त जीवन परिचय लिखिए।

उत्तर: प्रेमचंद का जन्म, 31 जुलाई 1880, को वाराणसी के निकट लमही गांव में एक कायस्थ परिवार में हुआ था। इनकी माता का नाम आनंदी देवी तथा पिता का नाम मुंशी अजायबराय था। प्रेमचंद के पिता, लमही में, डाकमुंशी थे। प्रेमचंद को पढ़ने का शौक बचपन से ही था। सन् 1898 मे, मैट्रिक की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद, वे एक स्थानीय विद्यालय में, शिक्षक नियुक्त हो गए। जीवन के अंतिम दिनों में वह गंभीर रूप से बीमार पड़ गए और लंबे समय तक बीमार रहने के पश्चात 8 अक्टूबर 1936, को उनका निधन हो गया। प्रेमचंद के सर्वश्रेष्ठ प्रसिद्ध उपन्यासों में से गोदान, संबन और सेवा सदन प्रमुख है।


18. जवाहरलाल नेहरू का संक्षिप्त जीवन-परिचय लिखिए।

उत्तर: पंडित जवाहरलाल नेहरू का जन्म, 14 नवंबर 1889 को, ब्रिटिश भारत के इलाहाबाद में हुआ था। इनके पिता मोतीलाल नेहरू, एक धनी बैरिस्टर थे। जवाहरलाल नेहरू तीन भाई बहन थे, जिनमें वह सबसे बड़े थे और बाकी की दो बहने थी। इन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा हैरो से, और कॉलेज की पढ़ाई, ट्रिनिटी कॉलेज, कैंब्रिज (लंदन) से पूरी की। इसके बाद उन्होंने लॉ की पढ़ाई कैंब्रिज विश्वविद्यालय से पूरी की। पंडित जवाहरलाल नेहरू 1912 में भारत लौटे और भारत में ही वकालत शुरू की। जवाहरलाल नेहरू ने 1920 – 1922 मे असहयोग आंदोलन में सक्रिय हिस्सा लिया। पंडित जवाहरलाल नेहरु की मृत्यु, 27 मई 1964 को 74 वर्ष की आयु में, दिल्ली में हुई।


19. इतिहास को लिखने के लिए साक्ष्य कहां से और कैसे जुटाए गए? 

उत्तर: धरती पर पहले से पढ़े हुए अवशेषों की जांच और अध्ययन से हमें धरती के पूर्व रूप के बारे में पता चलता है। इतिहास को लिखने के लिए जो साक्ष्य हमें मिले, वह हमें विभिन्न जगह खुदाई से मिले। साक्ष्य से हमें यह पता चला कि  धरती पर पहले कोई लोग समाज या ग्राम रहा करते थे। मिले हुए जीवाश्म के ऊपर, सभी के राय को इकट्ठा करके, एक सर्वोत्तम राय को तवज्जो दी जाती है। फिर इसे एक किताब का रूप दिया जाता है, जिससे हमें और आपको इतिहास के बारे में पता चलता है।


20. दुनिया का हाल जानने के लिए लेखक ने कौन सा तरीका समझाया है? 

उत्तर: दुनिया का हाल समझने के लिए लेखक ने कहा है कि, हमें आसपास की  ऐसी चीजें जो बहुत ही पहले से है, उसे परखने की आवश्यकता है। वह कौन सी चीज है?, वह ऐसी क्यों दिखती है? जब कोई वस्तु देखकर ऐसे सवाल हमारे मन में आए, तो यह जरूरी है कि हम उसकी जानकारी प्राप्त करने की कोशिश करें। यह हमें दुनिया समझने का एक अलग नजरिया प्रदान करेगा।

FAQs on Important Questions for CBSE Class 6 Hindi Vasant Chapter 12 - Sansar Pustak Hai

1. Where can I download Important Questions for Class 6 Hindi Vasant Chapter 12?

To download important questions for Class 6 Hindi Vasant Chapter 12, follow these simple steps:

  • Visit the page-Important Questions of Chapter 12 of Class 6 Hindi.

  • When you scroll down on the next page, you will find the option to "Download the PDF."

  • Click on it.

  • The successive page will provide you with the link to download the required PDF easily.

All of these questions are available for download at absolutely no cost. You can also download them from the Vedantu mobile app.

2. Are Vedantu’s Important Questions for Class 6 Hindi Vasant Chapter 12 easy to comprehend?

Vedantu's important questions for Class 6 Hindi Vasant Chapter 12 can be easily understood by the students and used for exam preparation. These questions have been cautiously prepared by highly experienced teachers who have taught Hindi to CBSE students for years. Therefore these questions will help you prepare efficiently for the CBSE exams. Moreover, the answers to these questions are well suited to the learning level of Class 6 students.

3. Who wrote the Chapter 12 of Class 6 Hindi Vasant and why?

This mesmerizing chapter was a letter written by our first honourable Prime Minister Jawaharlal Nehru to his daughter Indira Gandhi. Through this letter, a father tries to introduce his daughter to a fascinating world that has a billion stories to tell. It calls upon the reader of the letter to reflect and wonder about the mysteries of nature that surround us. It beautifully describes how every single thing of nature around us has a story to tell if we paid slight attention.

4. What does this letter attempt to teach us?

Although the letter was written to the writer's daughter, it teaches the readers valuable lessons. Just like little Indira, young students will be able to read this letter and build up curiosity within themselves. This letter calls on students to work on their power of reflection and teaches them to look carefully at everything around them and ponder upon it. When human beings look at everything around them with an investigative eye, nature actually talks to them and tells them its story.

5. What can a little pebble teach us if we try to reflect upon it?

Mr Jawaharlal Nehru tells us to reflect upon everything in nature, even a small pebble. Even a small pebble has an amazing story to tell. When we look around us and see stones they have ragged edges. Then how come a pebble has a round shiny surface. Reflecting upon this tells us that maybe that pebble went through many paths and ended up in a river and the ocean. Being in the water for so long made its surface shiny.